1752 September calendar Kya hua esa Jo duniya badal gayi ... सरल तरीके से

1752 September calendar Kya hua esa Jo duniya badal gayi ... सरल तरीके से


क्या आप लोगों को मालूम है कि 1752 सितंबर में क्या हुआ था


तो चलिए मैं आपको बताता हूं कि 1752 सितंबर में क्या हुआ था दरअसल 1752 सितंबर 11 दिन कम थे अब आप सोच रहे होंगे कि यह कैसे हुआ तो मैं आपको इसी सवाल का जवाब बताऊंगा
सरल तरीके से

September 1752 से पहले ब्रिटेन (England) में तारीखों के निर्धारण के लिए रोमन जूलियन कैलेंडर (Roman Julian Calendar) का इस्तेमाल किया जाता था।

बाद में (1582 में) एक अधिक प्रमाणिक कैलेंडर अस्तित्व में आया जिसे ग्रेगोरियन कैलेंडर के नाम से जानते हैं। ग्रेगोरियन कैलेंडर पोप ग्रेगोरी XIII द्वारा ईजाद किया गया था जो तारीखों की गणना के लिए अधिक उपयुक्त समझा गया था।

England के राजा ने September 1752 से तारीखों के निर्धारण के लिए ग्रेगोरीयन कैलेंडर (Gregorian Calendar) के इस्तेमाल को मंज़ूरी दी। Roman Julian Calendar का वह वर्ष Gregorian Calendar से 11 दिन लम्बा था। इसलिए England के राजा ने September 1752 से 11 दिन कम करने के आदेश दिए। और इसी वजह से September 1752 में 2 तारीख के बाद सीधे 14 तारीख दिखाई दे रही है।
September 1752 में 11 दिन कम थे लेकिन इस महीने में सभी workers को payment पूरे महीने का दिया गया। और यहीं से “PAID HOLIDAYS”  concept का जन्म हुआ।

Roman Julian Calendar में नया वर्ष April में शुरू होता था और 1st April को नया वर्ष celebrate किया जाता था। लेकिन Gregorian Calendar में January को पहला महीना माना गया और उसी अनुसार 1st January को नया वर्ष मनाया जाने लगा। Gregorian Calendar में shift होने के बाद भी बहुत सारे लोगों ने अपनी पुरानी परम्परा नहीं छोड़ी और वो अभी भी 1st April को ही नए वर्ष के रूप में celebrate कर रहे थे।
सरल तरीके से

calendars के बारे में :-

दोनों कैलेंडरों के बीच मुख्य भेद यह है कि जूलियन कैलेंडर के अनुसार एक साल 365.25 दिन का माना जाता है जबकि वास्तविकता में यह 11 मिनट छोटा होता है। 11 मिनट का यह अंतर पाटने के लिए जूलियन कैलेंडर को हर 129 साल बाद 1 दिन आगे बढ़ा दिया जाता है। लेकिन इससे त्यौहारों और ऋतुओं से जुड़े दिनों की सही तारीख कि गणना में कठिनाई होने लगी। नतीजतन पोप ग्रेगोरी ने नया कैलेंडर बनाया जो आज लगभग पूरी दुनिया में चलता है।

सन 1582 में Gregorian Calendar को  introduce किया गया था, लेकिन 300 से भी ज्यादा वर्षों के बाद इसे विभिन्न देशों के द्वारा अपनाया गया। और अब यही calendar सबसे ज्यादा use किया जाता है। आज आप और हम तारीख देखने के लिए जिस calendar का use कर रहे हैं वो Gregorian Calendar ही है। Turkey ने यह calendar इस्तेमाल करने में सबसे ज्यादा देरी दिखाई और 1st January 1927 से ही Gregorian Calendar को अपने देश में मान्यता दी।
Gregorian Calendar से पहले सबसे ज्यादा प्रचलन में जो calendar था, उसे Roman Julian Calendar के नाम से जाना जाता है। लेकिन ये calendar पृथ्वी द्वारा सूरज के चक्कर लगाने के समय की सही गणना नहीं कर पाता था। leap year calculation इस calendar में सही नहीं

अब revised Julian Calendar भी introduce किया गया है। इसमें leap year calculation सबसे ज्यादा accurate है। इसमें एक वर्ष में सिर्फ 2 seconds का error ही मिलता है, मतलब 31250 years में एक दिन की error. पर यह calendar अभी किसी भी country द्वारा use नहीं किया जाता है।
चलते-चलते एक और fact : We can also say, 3 September 1752 से 13 September 1752 के बीच कोई भी पैदा नहीं हुआ। Interesting, isn’t it?

अगर हमारे द्वारा लिखी गई पोस्ट आप लोगों को पसंद आई हो‌ तो आप लोगों को हमारी वेबसाइट पर आने के लिए किसी भी आर्टिकल लिखना है title ke piche
(Saral tarike se) bus aap logon ko itna likhna hai 
लोगों को केवल सरल तरीके से इतना प्रोफेशन वेबसाइट के पीछे डालना है और हमारी वेबसाइट के आर्टिकल आप लोगों को मिल जाएंगे

सरल तरीके से

0 Response to "1752 September calendar Kya hua esa Jo duniya badal gayi ... सरल तरीके से "

Post a Comment

Top Ad Articles

Middle Ad Article 1

Middle Ad Article 2

Advertise Articles